About Us - तर्कशील भारत

Header Ads Widget

About Us


"मनुष्य जाती के शैशव की मानसिक दुर्बलताओं और उस से उत्पन्न मिथ्या विश्वाशों का समूह ही धर्म है , यदि उस में और भी कुछ है तो वह है पुरोहितों, सत्ता-धारियों और शोषक वर्गों के धोखेफरेब, जिस से वह अपनी भेड़ों को अपने गल्ले से बाहर नहीं जाने देना चाहते" -राहुल सांकृत्यायन हमारे चारों ओर दिन रात चलता धर्म का माहात्म्य टीवी पर चलते अविवेकी धारावाहिक फिल्म और विज्ञापनों द्वारा दिन रात चलता अन्धविश्वाश का प्रचार यह सब मिलकर समाज की सम्यक बुद्धि को नष्ट करने के लिए पर्याप्त हैं ऐसे में तार्किकता वैज्ञानिकता और बौद्धिकता की बातें समाज में कैसे स्थापित हो ? इस बात पर सभी वैज्ञानिक सोच रखने वाले साथियों को चिंतन करना चाहिए. समाज में वैज्ञानिकता के साथ मानवतावाद की स्थापना के लिए आवश्यक है कि हम अपने सिमित संसाधनों के बावजूद अपने अपने स्तर पर पहल जरूर करें. हम सबके छोटे छोटे प्रयास एक दिन अवश्य ही "सत्यमेव जयते" की अवधारणा को सत्य साबित कर देंगे."तर्कशील भारत" चैनल समाज में व्याप्त धार्मिक जहालत को विज्ञान और तर्क के प्रकाश से दूर करने का मेरा छोटा सा प्रयास है. Whatsapp Number 7982610842








No comments:

Post a Comment

Pages