बालात्कार - तर्कशील भारत

Header Ads Widget

Tuesday, July 21, 2020

बालात्कार


जब किसी नारी की इच्छाओं के विरुद्ध उसके साथ पुरुष अपनी योनकुंठाओं को मिटाता है या कोशिश करता है शायद इसी को बालात्कार कहते हैं लेकिन हर बालात्कार की घटना पर केवल यह कह देना की मानवता शर्मशार हुई है काफी नही है. कौन सी मानवता और किस इंसानियत की बातें करते हो तुम ? क्या नारी को वह जगह दी तुमने अभी तक जो उसे मिलनी चाहिए ? नारी के प्रति नफ़रत वाले ग्रंथों को आग लगाया तुमने जो उसे भोग की वस्तु मानते हैं नही न ? फिर क्यों फालतू की बातें करते हो ? होने दो सब खुदा की मर्जी से ही तो होता है.  

-शकील प्रेम

No comments:

Post a Comment

Pages