तू जीत गई - तर्कशील भारत

Header Ads Widget

Monday, May 4, 2020

तू जीत गई



तेरी दौड़ पर मैं रोमांचित हूँ पगली तू जीत गई वक्त हार गया तेरे कदमों की रफ्तार से पृथ्वी का घूर्णन थम गया वक्त का पहिया थम गया तेरी इस जीत पर मैं रोमांचित हूँ पगली तू जीत गई वक्त हार गया तुझे तेरी यह जीत मुबारक हो मैं खुश हूँ तेरे जुनून से तेरी जिद से तेरी जात से तेरे जज्बात से तू जीत गई सिस्टम हार गया एक औरत जीत गई पौरुष हार गया चेतना जीत गई कुदरत हार गई माँ जीत गई धरती हार गई तेरी यह दौड़ प्राइम टाइम का हिस्सा नही बन पाई लेकिन तेरी संतानों के लिए तेरी यह दौड़ उनकी जिंदगी का हिस्सा जरूर बन जाएगी तेरी इस दौड़ पर मैं रोमांचित हूँ पगली तू जीत गई वक्त हार गया.-

शकील प्रेम

No comments:

Post a Comment

Pages