सब बुराइयों की जड़ ख़ुदा - तर्कशील भारत

Header Ads Widget

Saturday, December 22, 2018

सब बुराइयों की जड़ ख़ुदा


अमित चौहान जी
आपने पिछली पोस्ट के कमेंट में एक लंबा प्रश्न लिखा था जिसका सार था कि "जो भी अच्छा होता है उसका क्रेडिट खुद मनुष्य लेता है और जो भी बुरा होता है उसके लिए ईश्वर को जिम्मेदार ठहरा देता है"

श्रीमान जी आप और हम जिस दुनिया मे जी रहे हैं वहां चारों ओर जो माहौल है वो आपकी उपरोक्त बात से बिल्कुल उलट है यहां तो बच्चा पैदा होने से लेकर शादी घर बनाना समृद्धि प्रसिद्धि इन सब का श्रेय ईश्वर को दिया जाता है पग पग पर ईश्वर के दलाल बैठे हैं जो आपकी छोटी छोटी उपलब्धियों को भी ईश्वर की देन बता कर आपको मुड़ते हैं बेटा हुआ तो अल्लाह ने दिया हक़ीक़ा करवाओ कुरानखानी करवाओ और वही बच्चा अगर बीमारी से मर गया तो डॉक्टर की गलती थी खुद की मेहनत से गाड़ी खरीदी तो कृपा ईश्वर की थी ईश्वर की कृपा बनी रहे इसलिए दक्षिण दो और वही गाड़ी कहीं ठुक गई तो तो मुआवजा इन्सुरेंस वालों से मांगो बस खाई में गिरी तो ड्राइवर की गलती थी और उसमें कुछ बच गए तो उन्हें भगवान ने बचा लिया वाह बहुत खूब...

आपने जो कहा सच्चाई बिल्कुल उसके उलट है हर बुरे काम बुरी घटना और बुरे संयोग को इंसान दुर्घटना आपदा किस्मत या व्यवस्था से जोड़ता है और खुद की मेहनत से हासिल की गई उपलब्धियों के लिए ईश्वर के दलालों को मालामाल कर देता है धरातल पर तो यही सच्चाई दिखाई देती है इसलिए कोई भी बात करने से पहले उसकी वास्तविकता पर गौर जरूर कर लीजिए वर्ना भ्रमित करते रहिए ईश्वर के नाम उल्लू सीधा करते रहिए यही आपका काम है जो आप लोग सदियों से करते आये हैं लेकिन अब लोग जाग रहे हैं और आपके इस भ्रमजाल को खूब समझ भी रहे हैं.

ईश्वर के नाम पर धर्म का इतना बड़ा साम्राज्य खड़ा कर दिया और कुछ बुरा हो तो वो दोषी नही किसी मासूम बच्ची से सामूहिक रेप हो या उसे जिंदा जला दिया जाय लेकिन वो दोषी नही वाह धन्य हैं आप और आपका ईश्वर...

No comments:

Post a Comment

Pages