पाखंड भगाओ देश बचाओ !! - तर्कशील भारत

Header Ads Widget

Saturday, April 21, 2018

पाखंड भगाओ देश बचाओ !!

    आइये धरती पर भगवान और अल्लाह के नाम पर 
    फैलाये गए झूठ से पर्दा उठाते हैं !


1-मक्का में काबे का लिहाफ कभी पुराना क्यों नही होता ?

जाहिलो की कोई कमी नही अरे भाई हर दस साल में उस लिहाफ को बदला जाता है और अगर उस लिहाफ में इतनी ही अल्लाह की शक्ति होती तो कई लड़ाइयों में उस लिहाफ के चिथड़े उड़ा दिया गया लेकिन अल्लाह कुछ नही कर पाया !

2- सीमा पर स्थित *"तनोट माता मंदिर"* में 3000 बम में से एक का भी ना फूटना।

ये एक ऐसा झूठ है जिसे उस मंदिर के पंडों ने फैलाया है !

बम वाली बात केवल अफवाह है जिसे सेना के करनल राजदीप सिंह राठौर ने झूठी गप करार दिया है क्योंकि वे 4 September 1971 की उस रात कनौट मंदिर के क्षेत्र में ही ड्यूटी पर थे जब वहां दुश्मनों ने गोलीबारी शुरू की थी !


*3- अमरनाथ में शिवलिंग का अपने आप बनना !!

अमरनाथ नमक एक गुफा में बर्फ का ढेर जिसे शिवलिंग कहते हैं अपने आप बनता है लेकिन ये कोई चमत्कार नही है ! 

ये है ऑस्ट्रिया की एक प्राकृतिक गुफा 

पूरी दुनिया ऐसी बहुत सी गुफाएं हैं जहां इस प्रकार की घटनाएं होती है लेकिन उन देशों में पाखंड नही होने के कारण उन्हें कुदरती संरचनाये समझा जाता है अगर वास्तव में अमरनाथ में शक्ति होती तो सेना  उसकी सुरक्षा क्यों करती ?

4-मक्का के गुम्बद की परछाई जमीन पर नही पड़ती 


ये भी पूरी तरह झूठ है क्योंकि मक्का में जो चबूतरा बना है जिसकी परिक्रमा हज के दौरान मुसलमान करते है उस चबूतरे की कोई मीनार ही नही तो परछाई कहाँ से पड़ेगी ?

5- *माँ ज्वालामुखी"* में
हमेशा ज्वाला निकलती है।

क्योंकि वहां जमीन के नीचे प्राकृतिक गैस का भंडार है और ऐसा दुनिया मे हजारों जगहों पर होता है लेकिन उन देशों में कुदरत की इस साधारण घटना की कोई पूजा नही करता अगर ज्वाला देवी मंदिर में शक्ति होती तो कई बार उस मंदिर को आक्रमणकारियों ने नष्ट किया है उसे लूटा गया है तब देवी जी पता नही कहा छुप गई थी असल मे भारत जैसे अन्धविश्वाश प्रधान देश में विज्ञान की समझ विकसित नही होने के कारण लोग ऐसी अफवाहों को सच मानते है  हैं !

6- *"मैहर माता मंदिर"* में रात को आल्हा अब भी आते हैं।

सरासर झूठी और बकवास बात है आपने कभी आल्हा को उस मंदिर में आते देखा है सुनी सुनाई बात कभी सत्य नही होती मन्दिरबाजी से माल कमाने वाला गिरोह ऐसी अफवाहों को फैलाता है ताकि लोग उस मंदिर को चमत्कारिक समझ खूब चढ़ावा चढ़ा सके !

7-भारत की एक अदभुत मजार जहां जहरिले बिछु किसी को काटते नही 

इस मजार पर बिछुओं की एक खास प्रजाति को सैंकड़ो सालों से पाला जा रहा है ये ऑर्गेलिस प्रजाति के बिछु हैं जो किसी को काटते नही इसमे चमत्कार वाली कौन सी बात है ? पाखंडों से माल कमाने वाला गिरोह ऐसी अफवाहों को फैलाता है ताकि लोग उस मजार को चमत्कारिक समझ खूब चढ़ावा चढ़ा सके !

8- इतने बड़े हादसे के बाद भी *"केदारनाथ मंदिर"* का बाल ना बांका होना।

ये मंदिर दस हजार निर्दोष इंसानों को बचा नही पाया जो उस भयंकर हादसे का शिकार होकर मर गए लाशें मंदिर के गर्भगृह तक पहुंच चुकी थी !

मासूम बच्चे औरते सैकड़ो की तादात में बह गए लेकिन केदारनाथ किसी को नही बचा पाया मंदिर को काफी नुकसान हुआ दीवारे गिर गई मूर्तियां उखड़ गई लेकिन अक्ल के अंधो को ये सब नही दिखेगा  इतनी बर्बादी के बाद भी मंदिर का ढांचा इसलिए बच गया क्योंकि ये मंदिर विशाल पत्थरों के चबूतरे पर पत्थर के विशाल खंडों से बनाया गया है 

9-पूरी दुनियां मैं आज भी सिर्फ *"रामसेतु के पत्थर"* पानी में तैरते हैं।

अगर पूरी दुनिया को जानते तो ये बेवकूफी वाली बात कभी न करते 

क्योंकि दुनिया भर में ऐसे सैंकड़ो ज्वालामुखीय क्षेत्र है जहां के पत्थर पानी मे तैरते हैं !

10 *"रामेश्वरम धाम"* में सागर का कभी उफान न मारना।

रामेश्वरम में 18 मार्च 1967 को आये भयंकर समुद्री तूफान ने 15 लोगो की जान ले ली थी ! 4 septembr 1988 को 23 लोग समुद्री तूफान में मारे गए थे ! 3 अगस्त 1992 को भी रामेश्वरम में एक समुद्री तूफान में 9 लोग मारे गए थे !

अबे कितना झूठ फैलाओगे .... शर्म आती है तुम्हारी मक्कारी पर ...!

11-*"पुरी के मंदिर"* के ऊपर से किसी पक्षी या विमान का न निकलना।

अक्ल के अंधो को कौन समझाए की विमान का एक मार्ग होता है मंदिर के ऊपर से कोई हवाई मार्ग ही नही तो विमान क्यों गुजरेंगे वहां से ?

पक्षी पूरी के गुम्बद के ऊपर से गुजरने की बजाय साइड से क्यों नही गुजरेंगे अगर तुम्हें चाइना जाना हो तो जरूरी है कि तुम एवरेस्ट की चोटी को पार कर के china जाओगे ?

12- *"पुरी मंदिर" की पताका हमेशा हवा के विपरीत* दिशा में उड़ना।

अबे कितना झूठ फैलाओगे ...पूरी मंदिर का झंडा हवा के विपरीत नही बल्कि हवा के साथ लहराता है !

13- *उज्जैन में "भैरोंनाथ" का मदिरा पीना।*


1999 की वो घटना याद है जब पंडों की अफवाह पर शंकर जी दूध पीने लगे थे और मंदिरों में लाइन लग गई थी बाद में ये पूरी बात झूठ निकली वैसे ही भैरो मंदिर में जो शराब भैरो पर चढ़ाया जाता है वो देखने मे लगता है कि भैरो उसे पी रहे हैं !

लेकिन मूर्ति के गुप्त छेद से वो शराब कही और पहुंचा दिया जाता है जहां से पंडे उसे दोबारा बेच देते हैं !

14-*गंगा और नर्मदा माँ (नदी) के पानी का कभी खराब* न होना।

अगर ऐसा होता तो गंगा और की सफाई पर हर साल खरबों रुपया खर्च करने की जरूरत नही पड़ती 

15-*श्री राम नाम धन संग्रह बैंक में संग्रहीत इकतालीस अरब राम नाम मंत्र पूरित ग्रंथों को (कागज होने पर भी) चूहों द्वारा नहीं काटा जान। जबकि अनेक चूहे अंदर घुमते रहते हॆं।*

भाई देश मे 7 हजार बच्चे प्रतिदिन भूख से मर जाते है तब ये राम नाम का बैंक किसी काम नही आता चूहे ने कुतरा है कि नही आपने जाके कभी चेक किया !

16- चितोडगढ मे बाणमाताजी के मंदिर मे आरती के समय त्रिशूल का हिलना।।

मंदिर को चमत्कारिक बनाने के लिए पंडे इस प्रकार के बहुत से पाखंड करते हैं सोमनाथ के मंदिर में भी ऐसा ही पाखंड रचा गया थे लेकिन जब 1026 ईसवी में उस मंदिर पर हमला हुआ तो त्रिशूल हिलाने वाले भगवान कोई भी चमत्कार नही दिखा पाए और पूरा मंदीर बर्बाद कर दिया गया !

पाखंड भगाओ देश बचाओ !!

No comments:

Post a Comment

Pages